31.1 C
Delhi
September 21, 2021
Charis Journal

प्रदर्शनों की होगी वीडियोग्राफी, 25 सितंबर को ‘पंजाब बंद’ और ‘रेल रोको’ आंदोलन, राज्य सरकार अलर्ट

punjab

केंद्र सरकार के कृषि विधेयकों के खिलाफ आंदोलन पर उतरी किसान जत्थेबंदियों ने 25 सितंबर को पंजाब बंद का एलान किया है। किसान जत्थेबंदियों के इस एलान को लेकर राज्य सरकार की तरफ से बुधवार को सभी जिला उपायुक्तों और पुलिस प्रमुखों को निर्देश जारी किए गए हैं। गृह विभाग की ओर से जिला उपायुक्तों को जारी निर्देश के तहत, 24 से 26 सितंबर तक 48 घंटे के बंद और रेल रोको आंदोलन के दौरान अलर्ट रहने को कहा है।

इसके साथ ही यह हिदायत भी दी गई है कि पंजाब बंद के दौरान किसानों के प्रति नरम रवैया अपनाया जाए और उन पर कोई सख्त जबरदस्ती न की जाए। इसके साथ ही एंबुलेंस सेवा, सिविल सर्जनों, डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को भी तैयार रखने को कहा गया है ताकि प्रदर्शन के दौरान किसी भी अप्रिय घटना में घायलों को तुरंत चिकित्सा सुविधा मुहैया कराई जा सके।

हथियार लेकर चलने पर रोक
गृह विभाग ने इसके साथ ही यह भी निर्देश जारी किए हैं कि पंजाब बंद की अवधि के दौरान सार्वजनिक स्थलों पर हथियार लेकर चलने पर पूरी तरह रोक लगाई जाए। जिला उपायुक्तों, पुलिस कमिश्नरों और जिला पुलिस प्रमुखों से कहा गया है कि वे रेलवे पुलिस के अधिकारियों और सूबे की इंटेलिजेंस एजेंसियों के साथ साझा बैठक कर किसान आंदोलन को शांतिपूर्वक ढंग से संपन्न कराने की योजना तैयार करें।

रेलवे ट्रैक, स्टेशनों व हाईवे की वीडियोग्राफी होगी
गृह विभाग ने यह भी फैसला लिया है कि किसान आंदोलन के दौरान रिकॉर्ड के तौर पर राज्य की रेल लाइनों, रेलवे स्टेशनों और हाईवे पर होने वाले प्रदर्शनों की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कराई जाएगी। इस बाबत जिला उपायुक्तों और जिला पुलिस प्रमुखों को निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा आंदोलनरत किसानों के नेताओं से तालमेल बनाकर रखने और आम राहगीरों के जान-माल की सुरक्षा यकीनी बनाने और सरकारी संपत्ति को नुकसान से बचाने के लिए कड़ी निगरानी और कार्यवाही करने को कहा गया है।

 

 

Related News

Leave a Comment