35.1 C
Delhi
June 21, 2021
Charis Journal

जांच में सामने आया सच, रिश्तेदार बनकर पीड़ित परिवार के साथ रह रही थी महिला

उत्तर प्रदेश में हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर जांच पड़ताल जारी है. इस बीच, तफ्तीश में पता चला है कि पीड़िता के गांव में फर्जी रिश्तेदारों ने डेरा डाला हुआ था. अपने आप को रिश्तेदार बता रही महिला का सामने सच आया है.

उत्तर प्रदेश में हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर जांच पड़ताल जारी है. इस बीच, तफ्तीश में पता चला है कि पीड़िता के गांवफर्जी रिश्तेदारों ने डेरा डाला हुआ था. अपने आप को रिश्तेदार बता रही महिला का सामने सच आया है. एक कथित महिला रिश्तेदार पीड़ित परिवार में देखी गई है.

पुलिस का दावा है कि वह महिला पीड़ित परिवार को बरगला रही थी. पुलिस के मुताबिक तथाकथित रिश्तेदार डॉ. राजकुमारी पीड़ित परिवारों को बरगलाते हुए देखी गई है. केवल दलित होने के नाते परिवार के लोगों को भरोसे में लेकर पिछले कई दिनों से पीड़ित परिवार के यहां महिला रही थी. महिला जबलपुर मेडिकल कॉलेज में अपने आप को प्रोफेसर बता रही थी.

पुलिस के मुताबिक यह फर्जी रिश्तेदार मीडिया में क्या बयान देना है, पीड़ित परिजनों को लगातार गाइड कर रही थी. पुलिस के शक होते ही महिला घर से चुपचाप खिसक ली. वीडियो में भी महिला को देखा जा सकता है जो अपना नाम कथित तौर राजकुमारी बता रही थी.

 

एसआईटी की पूछताछ जारी

बहरहाल, मामले की जांच कर रही SIT की टीम ने आरोपियों के परिवार से पूछताछ के लिए शुक्रवार को उन्हें बुलाया था. दो आरोपियों के परिवारों से एसआईटी ने पूछताछ की थी. साथ ही जांच दल ने पीड़ित परिवार के पड़ोसियों को भी पूछताछ के लिए बुलाया है. सूत्रों का कहना था कि एसआईटी 40 लोगों से पूछताछ करेगी.

इसमें वो लोग शामिल हैं, जो घटना वाले दिन खेत के आसपास थे. साथ ही एसआईटी ने पीड़िता के अंत्येष्टि वाले दिन कौन कौन घटना स्थल पर गांव का मौजूद था या दूर से देख रहा था उससे पूछताछ की है. SIT टीम पुलिस लाइन में गांव के लोगों को लगातार पूछताछ के लिए बुला रही है.

Related News

1 comment

storno brzinol June 4, 2021 at 11:56 AM

There is noticeably a bundle to know about this. I assume you made certain nice points in features also.

Reply

Leave a Comment