23.4 C
Delhi
November 29, 2021
Charis Journal

झारखंड से ग्राउंड रिपोर्ट: पुलिस ने तन ढंकने के लिए कपड़े दिए, पीड़ित महिलाएं बाेलीं- बेटी बाेलती जा रही थी और बाप कपड़े उतार रहा था

 

पुलिस ने 33 नामजद और 55 अज्ञात लाेगाें पर केस दर्ज कर लिया है डायन बताकर हैवानियत करने वाले सभी फरार.

(लव कुमार दुबे) डायन के नाम पर शुक्रवार काे तीन महिलाओंं काे निर्वस्त्र कर पीटने और बिना कपड़े के नाचने का दबाव बनाने की घटना के बाद नारायणपुर गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव के सभी पुरुष फरार हैं। सिर्फ महिलाएं हैं, वे भी सहमी हुई हैं। शनिवार काे अफसर गांव पहुंचे ताे पीड़ित महिलाएं उनसे दाेषियाें काे पकड़ने की गुहार लगा रही थीं। मामले में 33 नामजद और 55 अज्ञात लाेगाें पर केस दर्ज कर 2 लोगों काे गिरफ्तारी हुई है।

दैनिक भास्कर शनिवार काे गांव पहुंचा ताे पीड़ित महिलाओं ने दिल दहला देने वाली आपबीती सुनाई। झाेपड़ीनुमा घर में अकेले रह रहीं 75 साल की विधवा ने बताया- आराेपी बलि रजवार की दाेनाें बेटियों को डायन कहकर कपड़े उतारे गए। उनका बाप ही कपड़े उतार रहा था। उन पर चावल छिड़का जा रहा था और इज्जत काे सरेआम तार-तार किया जा रहा था।

अब आराेपी हमें धमकी दे रहा है। वहीं 40 साल की दूसरी पीड़ित ने कहा- सात युवक हम तीनाें काे पकड़े हुए थे। आंख-मुंह बंद कर रखा था। पुलिस ने भीड़ काे खदेड़ा और हमें तन ढंकने के कपड़े दिए।

भाग कर बचाई जान

तीसरी पीड़ित 55 साल की महिला ने कहा- आराेपी मां-बेटे के रिश्ते काे शर्मसार करने पर उतारू थे। हमें पीटा गया। गांववाले मेरे बेटे काे ओझा बताकर पकड़ लाए। उसकी भी पिटाई करने लगे। इसी दाैरान मैं वहां से भाग निकली। अगर मैं भागी नहीं हाेती ताे बेटे से कभी आंख नहीं मिला पाती।

दाेषियाें काे सजा दिलाने की गुहार

डीसी राजेश कुमार पाठक और एसपी श्रीकांत एस खाेटरे शनिवार काे गांव पहुंचे। पीड़ित महिलाओं की एक ही गुहार थी कि दाेषियाें काे सजा दिलाएं। डीसी ने कहा- दाेषियाें पर कड़ी कार्रवाई हाेगी। वहीं एसपी ने कहा कि दाे-तीन दिन के भीतर सभी आरोपी जेल में हाेंगे।

भास्कर ने उठाया था मुद्दा

नारायणपुर गांव में पंचायत कर महिलाओं काे अर्धनग्न हाेकर नाचने काे कहा गया। इनकार करने पर पिटाई की। एक महिला की आंख फाेड़ने की भी काेशिश की। भास्कर ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया था।

Related News

Leave a Comment